SHARE
arunachal-pradesh_
arunachal-pradesh_

अरुणाचल प्रदेश, तवांग, India में करोड़पतियों की तादाद हर साल लगातार बढ़ रही है, और इसमें बुधवार को एक साथ 31 लोग बढ़ गए, और सबसे दिलचस्प तथ्य यह है कि सभी 31 एक ही गांव के रहने वाले हैं. अरुणाचल प्रदेश के तवांग जिले के गांव बोमजा में भारतीय सेना का गैरिसन बनाने के लिए ज़मीनों का अधिग्रहण किया गया था, जिसकी एवज में गांव के रहने वालों को मुआवज़ा वितरित किया गया.

अरुणाचल प्रदेश सरकार की आधिकारिक वेबसाइट (http://www.arunachalpradesh.gov.in) के अनुसार मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने अपने निर्वाचन क्षेत्र मुक्तो में स्थित लोऊ गांव में आयोजित कार्यक्रम के दौरान 31 लोगों को 200.056 एकड़ ज़मीन की एवज में 40,80,38,400 रुपये मुआवज़े के चेक वितरित किए. मुआवज़े के रूप में सबसे बड़ी रकम का चेक 6,73,29,925 रुपये का था, और उसके बाद सबसे बड़ा चेक 2,44,97,886 रुपये का था. शेष 29 लोगों में से प्रत्येक को 1,09,03,813 रुपये का चेक दिया गया.

मुख्यमंत्री ने लम्बे समय से पेंडिंग ज़मीन मुआवज़े को मंज़ूरी देने के लिए केंद्रीय रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण को धन्यवाद दिया, तथा जानकारी दी कि रक्षा उद्देश्यों से जुड़े इसी तरह के अन्य भूमि अधिग्रहणों की एवज में दिए जाने वाले मुआवज़े के बारे में केंद्र से बातचीत जारी है.पेमा खांडू ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में राज्य अब सही रास्ते में चल निकला है. उन्होंने कहा कि केंद्र के सहयोग से अरुणाचल प्रदेश में तेज़ी से विकास हो रहा है, तथा रेल, हवाई, डिजिटल तथा सड़क कनेक्टिविटी पर खास ज़ोर दिया जा रहा है. उन्होंने यह भी बताया कि तवांग जिला जल्द ही रेलमार्ग से जोड़ दिया जाएगा.